जन अधिकार छात्र परिषद ने नीट – जेइई मामले में शिक्षा मंत्री को 5 हजार पत्र लिखने का रखा लक्ष्य

पटना । बुधवार को जन अधिकार छात्र परिषद ने NEET एवं JEE मामले में भारत सरकार के शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक को दो दिनों में 5 हजार पत्र लिखने की शुरुआत की है। जन अधिकार छात्र परिषद द्वारा भेजा जा रहा आग्रह पत्र में बाढ़ एवं कोरोना संक्रमण के कारण देश मे लगे नेशनल डिजास्टर एक्ट से यातायात साधन बन्द होने का जिक्र करते हुए तिथि बढ़ाने की मांग किया है। जन अधिकार छात्र परिषद के प्रदेश अध्यक्ष विशाल कुमार ने भी शिक्षा मंत्रालय को रजिस्ट्री द्वारा पत्र भेजा,उन्हीने कहा कि NEET एवं JEE के अभ्यर्थी गांव सहित सुदूर इलाको में बड़ी संख्या में है। कोरोना मरीजो के बढ़ती संख्या को ध्यान में रखते हुए संक्रमण का चेन तोड़ना होगा,कोरोना महामारी से छात्रों एवं उनके परिवार को बचाना हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए,वर्तमान में परीक्षा करना ठीक नही है।

जन अधिकार छात्र परिषद ने अपने आग्रह पत्र में यह भी कहा है कि यदि मांगे पूरी नही होती है। तो सड़क पर उतर आंदोलन करने को विवस होंगे जरूरत पड़ी तो सामुहिक आत्मदाह करेंगे।

रिपोर्ट – विवेक कुमार यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0