लोजपा प्रमुख ने मुख्यमंत्री को पत्र लिख सुशांत सिंह राजपूत केश सीबीआई को सौंपने की मांग की।

News Desk : लोक जन शक्ति पार्टी ने मुख्यमंत्री को पत्र लिख कहा है कि आदरणीय मुख्यमंत्री जी,स्व० सुशांत सिंह राजपूत जी की दुखद मृत्यु को हुए लगभग 50 दिन होने को आए हैं और अभी तक उनकी मृत्यु का कारण स्पष्ट नहीं हुआ है।

सच्चाई सामने न आने के कारण बिहार में ही नहीं बल्कि देश और दुनिया में रह रहे उनके प्रशंसकों में निराशा व अत्यंत आक्रोश है।उनके हर प्रशंसक की यह मांग है कि इस मामले की जांच सी.बी.आई. द्वारा करायी जानी चाहिए,ताकि जल्द सच्चाई सामने आ सके।ज्ञात हो कि इस घटना के तुरंत बाद दिनांक 18 जून 2020 को मेरे द्वारा लिखे गए पत्र में भी मैंने आपसे हस्तक्षेप करने का आग्रह किया था।स्व० सुशांत सिंह जी के परिवार से मेरा गहरा रिश्ता रहा है और मेरी पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी भी इस मांग को उठाती रही है कि इस घटना की जांच सी.बी.आई. द्वारा की जानी चाहिए।महोदय इस घटना को घटे एक लम्बा समय पहले ही बीत चुका है,अब और विलम्ब करना उचित नहीं होगा।

लोक जनशक्ति पार्टी के विधान पार्षद एवं स्व. सुशांत सिंह राजपूत जी की भाभी तथा उनके चचेरे भाई नीरज कुमार बब्लु (एम.एल.ए.) ने मुझे अवगत कराया कि 05 अगस्त 2020 को माननीय उच्चतम न्यायालय में इस मामले को बिहार से महाराष्ट्र स्थानांतरण करने की याचिका पर सुनवाई होनी है।उनके अनुसार आज आपके पास मौका है कि बिहार में दर्ज एफ.आई.आर. के आधार पर इस घटना की जाँच आप सी.बी.आई. को सौंप सकते हैं।क्योंकि आज इस मामले कि जांच महाराष्ट्र पुलिस के साथ-साथ बिहार पुलिस भी कर रही है।परन्तु यह जाँच पूर्णतः महाराष्ट्र सरकार के हवाले हो जाती है तो फिर इस मामले को सी.बी.आई. को सौंपने का अधिकार बिहार सरकार के हाथ से निकल जाएगा।बार-बार आपके द्वारा कहा जाता है कि यदि परिवार मांग करेगा तो इस केश को सी.बी.आई. को सौंपा जा सकता है।महोदय स्व. सुशांत सिंह राजपूत सिर्फ एक परिवार का नहीं बल्कि पूरे बिहार का बेटा था।उनकी लोकप्रियता इतनी थी कि 13 करोड़ बिहारवासी और करोड़ों देशवासी उन्हें अपना बेटा मानते थे।यही कारण है आज सब लोग सी.बी.आई. जांच की मांग कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0