राष्ट्रवादी कांग्रेस के पदाधिकारियों की बैठक में नेताओं ने लिया नीतीश सरकार को उखाड़ फेंकने का संकल्प।

बिहार प्रदेश राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के सभी जिलाध्यक्ष,प्रदेश के सभी प्रकोष्ठ के अध्यक्ष एवं पूर्व पदाधिकारियों की एक बैठक शनिवार को सम्पन्न हुई। जिसमें मुख्य रूप से पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव के.के.शर्मा,राष्ट्रीय सचिव सह बिहार प्रभारी राजीव झा उपस्थित रहे।बैठक में ज्यादातर जिलाध्यक्षों और पदाधिकारियों ने कहा कि देश में साम्प्रदायिक शक्तियों को कमजोर करने के लिए पार्टी को बिहार विधानसभा का पुनाव राजद,कांग्रेस व अन्य सेकुलर विचारधारा वाले दलों के साथ मिलकर लड़ना चाहिए।पार्टी के अधिकारियों ने कहा कि बिहार में हमारा संगठन काफी मजबूत है,अतः गठबंधन में हमारी सम्मानजनक उपस्थिती होनी चाहिए।संवाददाताओं को संबोधित करते हुए पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव के के शर्मा ने कहा कि हमारे नेता शरद पवार जी की विचारधारा हमेशा देश में सांप्रदायिक सौहार्द को बनाए रखने की रही है। इसके लिए सभी सेकुलर दलों को एकजुट होकर चुनाव में उतरना होगा, तभी बिहार में साम्प्रदायिक शक्तियों को परास्त कर पाएंगे।

वहीं पार्टी के राष्ट्रीय सचिव सह बिहार प्रभारी राजीव झा ने कहा कि NCP की विचारधारा स्थापना काल से ही RSS और BJP के खिलाफत की रही है।पार्टी अध्यक्ष शरद पवार ने हमेशा इन ताकतों के खिलाफ संघर्ष किया है।उन्होंने कहा कि इन 15 वर्षों में बिहार की जितनी दुर्गति हुई है,उतनी आजादी के बाद कभी नहीं हुई।बिहार में बेरोजगारी चरम पर है।बिहार के पुराने सभी कारखाने बंद हो गए। बिहार में अपराप बेलगाम है।बिहार की जनता ने नितीश सरकार को उखाड़ फेंकने का प्रण लिया है और NCP उसे अंजाम तक पहुंचाएगी।

रिपोर्ट – विक्रांत कुमार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0