औरंगाबाद:-/पुत्र की मौत की खबर सुनते ही पिता ने भी दम तोड़ा

धीरेन्द्र पाण्डेय औरंगाबाद

औरंगाबाद। कासमा थाना के चितरसारी गांव निवासी सह पंचायत के उपमुखिया ओमप्रकाश भारती उर्फ गुड्डू के घर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। पहले बेटे की सड़क हादसे में मौत हुई। बेटे की मौत की खबर सुन अस्पताल में इलाजरत पिता सेवानिवृत्त शिक्षक मीताराम यादव की हार्टअटैक से मौत हो गई। उनका औरंगाबाद में इलाज चल रहा था।

बता दें कि बीते बुधवार की रात सेवानिवृत्त शिक्षक की तबीयत ज्यादा खराब होने की खबर सुनकर बड़े पुत्र चंद्रशेखर उर्फ शेखर अपनी स्कॉपियो गाड़ी लेकर पिता को देखने निकले थे। वे परिवार को लाने घर से रफीगंज जाने लगे। इसी बीच चातर मोड़ के समीप दुर्घटना में उनकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई। पिता को देखने का ख्वाब अधूरा ही रह गया। सुबह में शेखर के शव का पोस्टमार्टम के बाद अंतिम संस्कार करने के बाद भाई उपमुखिया गुड्डू पिता का इलाज कराने के लिए गया के एक निजी अस्पताल में लेकर गए। इस दौरान गुड्डू के पिता ने हमेशा शेखर को ढूंढ रहे थे, लेकिन गुड्डू कोई न कोई बहाना बनाकर टालते रहे। गुड्डू के सामने द्वंद्व की भयावह स्थिति बनी हुई थी।

गया में डॉक्टरों ने पिता को आइजीआइएमएस पटना रेफर कर दिया। विधायक अशोक कुमार सिंह के प्रयास से इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान अनुसंधान केंद्र में भर्ती कराया गया। इलाजरत पिता को पटना पहुंचने पर भी बड़े पुत्र शेखर को नहीं देख पाने की स्थिति में संशय हुआ था। वे सदमे को बर्दाश्त नहीं कर सके एवं उनकी मौत हो गई। पुत्र चंद्रशेखर की मौत के तीन दिन बाद ही पिता मीताराम यादव की मौत हो गई। अंतिम संस्कार में विधायक अशोक कुमार सिंह, जिला पार्षद शंकर यादवेंदु, पूर्व जिला पार्षद अरविद यादव, जदयू गोह विधानसभा प्रभारी विजय विश्वकर्मा, जदयू जिला युवाध्यक्ष अनिल कुमार मेहता, प्रखंड अध्यक्ष सुनील कुमार वर्मा, मुखिया प्रतिनिधि डॉ. क्यामुद्दीन, मुखिया प्रतिनिधि सरयू चौधरी, पैक्स अध्यक्ष मोहन यादव, कौशल चंद्रवंशी, वैजनाथ पासवान, उदय सिंह उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0