बक्सर में फेसबुक और यूट्यूब पर फेक तंत्र हावी,गलत मैसेज लिख लोगों के सम्मान से कर रहे खिलवाड़।

यूट्यूब और फेसबुक के हर मैसेज सही नहीं होते।जिससे थोड़ी गलतफहमी के चलते माहौल बिगड़ भी सकता है।ऐसा ही एक मामला बक्सर के विश्वामित्र हॉस्पिटल का प्रकाश में आया है।जानकारी के अनुसार चुरामनपुर के रहने वाले धर्मेंद्र पाल की पत्नी तबीयत खराब होने की वजह से उक्त हॉस्पिटल में एडमिट थी।स्वस्थ होकर हॉस्पिटल से डिस्चार्ज के उपरांत धर्मेंद्र पाल ने हॉस्पिटल के मैनेजर दामोदर उपाध्याय को बिल का भुगतान करते समय बिल में कुछ छूट देने का आग्रह किया।हॉस्पिटल मैनेजर दामोदर उपाध्याय ने छूट दे भी दी।

लेकिन हद तो तब हो गई,जब कुछ शरारती लोगों ने गलत तरीके से वीडियो बना फेसबुक और यूट्यूब पर यह लिख कर डाल दिया गया कि हॉस्पिटल मैनेजर मरीज के परिजनों को बंधक बनाकर जबरन पैसा मांग रहे हैं।इस फेक खबर के चलते बक्सर शहर में अफरातफरी मच गई।जबकि हॉस्पिटल मैनेजर दामोदर उपाध्याय और धर्मेंद्र पाल दोनों पुराने मित्र हैं और हँसी मजाक में बातें कर रहे थे। जिसका वीडियो बना शरारती तत्वों ने डाल दिया।अगर सही समय पर इस फेक वायरल वीडियो का खुलासा नहीं हुआ होता तो शहर में राजनीतिक व्यवसाय करने वालों के लिए एक बड़ा सा मुद्दा मिल जाता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0