राजद किसानों के हक और अधिकार की लड़ाई तेजस्वी प्रसाद यादव के नेतृत्व में लगातार करते रहेगा – एजाज अहमद

पटना । राष्ट्रीय जनता दल के वरिष्ठ नेता एजाज अहमद ने किसानों के समर्थन में आयोजित भारत बंद को सफल बनाने पर आम जनों, दुकानदारों ,किसानों तथा राजद और महागठबंधन के नेताओं और कार्यकर्ताओं को बधाई देते हुए कहा कि आज के स्वत: स्फूर्त बंद से यह सिद्ध हो गया कि तीनों काला कानून वापस लिए जाने की मांग को लेकर जो धरना प्रदर्शन किया जा रहा है उसके समर्थन में देश की जनता खड़ी है ।

उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार को बंद ने स्पष्ट संकेत दे दिया कि वह कारपोरेट घरानों के इशारे पर किसानों पर अत्याचार और जुल्म करना बंद करें । आज केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के द्वारा बहुमत के आड़ में जो कार्य किया जा रहा है यह लोकतंत्र के लिए ठीक नहीं है, क्योंकि जनता के द्वारा चुनी हुई सरकार ही अगर जनता और किसानों पर जुल्म और अत्याचार करेगी तो देश के भविष्य का क्या होगा। देश की 80% जनता आज भी खेत और किसानी पर ही निर्भर है और किसानों की मेहनत और मशक्कत के बल पर उपजाए गए अनाज से देशवासी अपना और अपने परिवार का भरण पोषण करते हैं ।

एजाज ने आगे कहा कि अफसोस की बात है कि बड़े उद्योगपतियों को उनके द्वारा उत्पादित सामानों का रेट करने रेट तय करने का अधिकार एमआरपी के द्वारा दिया गया है लेकिन अपने मेहनत से उपजाए गए अनाज की कीमत न्यूनतम समर्थन मूल्य यानि एमएसपी तय अधिकार किसानो को देने मे सरकार देने में हाथ खड़ी कर रही है ।

इन्होंने ने कहा कि कॉर्पोरेट घरानों के लिए सारी सुविधाएं उपलब्ध कराई गई है लेकिन किसानों को उनके उपजाए अनाज का वाजिब दाम भी नहीं दिया जा रहा है जब देश में लॉकडाउन की स्थिति थी तब किसान और मजदूर भुखमरी के शिकार थे लेकिन वहीं देश के बड़े उद्योगपति अदानी और अंबानी के व्यापार में 10 गुना वृद्धि हुई और यह दिन प्रतिदिन और मालदार हो गये । इस तरह की नीतियों के कारण ही आज पूरे देश में हाहाकार की स्थिति बनी हुई है और किसान सर्दी के इस मौसम में भी खुले आसमान के नीचे अपने अधिकार की प्राप्ति के लिए संघर्ष और आंदोलन कर रहे हैं लेकिन उसे भी केंद्र सरकार सुनने के लिए तैयार नहीं है और इसे दूसरी दिशा में मोड़ने का लगातार प्रयास चल रहा है लेकिन राष्ट्रीय जनता दल तेजस्वी प्रसाद यादव के नेतृत्व में इसके खिलाफ सड़क से लेकर सदन तक अनवरत आंदोलन और संघर्ष के माध्यम से किसानों के हक और अधिकार को दिलाने में हर स्तर पर सहभागी बनेगा ।

रिपोर्ट – स्वेता मेहता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0