कोरोना काल में फर्जी टेंट हाउस के नाम करोड़ों का घपला, विधायक ने लगाया आरोप

Bihar : Muzaffarpur :- नई सरकार के गठन के बाद से अब मजबूत विपक्ष ने बिहार की सरकार के नुमाइंदों के द्वारा ही कोरोना के काल मे प्रवासियों के लिए कोरेन्टीन केंद्र में किया गया घोटाला का मुद्दा को लेकर एक बार फिर से सरकार को घेरने का मन बनाया है। मीनापुर के राजद विधायक और कद्दावर नेता राजीव कुमार उर्फ मुन्ना यादव ने प्रखण्ड कार्यालय में आयोजित एक समीक्षा बैठक के दौरान कहा अंचल के ही अधिकारी के द्वारा बिना जांच के एक फर्जी टेंट हाउस के नाम पर 2 करोड़ का घोटाले का आरोप लगाया है और कहा है कि अब सदन में भी इसकी जानकारी को लेकर मुद्दा उठाने का काम भी करेंगे। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र का ही नही बल्कि पूरे बिहार में सरकार के लोग के द्वारा तमाम व्यवस्था की जाने के नाम पर जमकर लूट की गई । मामले में पूरे बिहार का भी आंकड़ा जांच की जाय तो यह और भी भयावह होगी।

मीनापुर के विधायक मुन्ना यादव ने प्रखंड के सभागार में BDO के साथ आयोजित समीक्षा में इस बात तो उठाया।उन्होंने कहा कि राकेश टेंट हाउस जिसका न तो कोई इस क्षेत्र में वजूद है और न ही कोई पता ऐसे में अंचल का अधिकारी ने बिना जाँच किया कैसे इसका भुगतान किया है इसकी जांच होनी चाहिए।इस कोरोना काल मे जहां सरकार ने तमाम व्यवस्था की वो कुछ और नही बल्कि लूट रही है।

उन्होंने कहा कि पूरे प्रखंड में कोरेन्टीन केंद्र के नाम पर 2 करोड़ रुपए के घोटाले का आरोप लगाया है और इस बाबत फर्जी टेंट हाउस का बिल को दिखाया जिसका कोई नहीं नाम पता रजिस्ट्रेशन बिल न और टिन वैट कुछ भी नही है।यही नही बल्कि जनसंख्या निष्क्रमण के नाम पर 41 लाख को आपदा के लिए व्यय कर लिया गया था जबकि क्षमता भी नही थी और इस मामले में चुप्पी नही साध सकते हैं और सदन में इसका पूरा विरोध करंगे और मामले में DM को अवगत करा करवाई की मांग करेंगे। इस पूरे मामले में अध्यक्षता करते हुए BDO ने पल्ला झाड़ते हुए कहा कि मामला संज्ञान में आया है और इसको लेकर के डीएम से अवगत कराएंगे और दोषी अधिकारियों के खिलाफ में करवाई की अनुशंसा करेंगे।

रिपोर्ट – विशाल कुमार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Shares