सुशील मोदी ने लालू यादव पर लगाया एनडीए को तोड़ने का आरोप

पटना । बिहार भाजपा के नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव पर बड़ा आरोप लगाया है। सुशील मोदी का कहना है कि लालू प्रसाद फोन कर एनडीए विधायकों को तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं। वे एनडीए विधायकों को मंत्री बनाने तक का ऑफर दे रहे हैं। सुशील मोदी ने खुद फोन कर लालू प्रसाद से बातचीत करने का दावा भी किया।

ट्वीट कर सुशील मोदी ने दी जानकारी

मंगलवार को ट्वीट कर सुशील मोदी ने इस बात की जानकारी देते हुए लालू प्रसाद पर निशाना साधा। ट्वीट में उन्होंने एक मोबाइल नंबर का भी जिक्र किया है। दावा किया कि वे उस मोबाइल से एनडीए विधायकों को फोन कर रहे हैं। विधायकों को फोन करने के पीछे उनकी मंशा एनडीए विधायकों को तोड़ने की है। एनडीए में टूट उत्पन्न करने के लिए वे एनडीए विधायकों को मंत्री बनाने तक का ऑफर दे रहे हैं।

सुशील मोदी ने खुद इस मामले की जांच की

सुशील मोदी ने यह भी दावा किया कि विधायकों को जिस नंबर से फोन आए, उसकी सत्यता जांचने को खुद हमनें (सुशील मोदी) फोन किया। फोन करने पर खुद लालू प्रसाद से बातचीत का दावा करते हुए कहा कि कॉल रिसिव उन्होंने खुद किया। फोन नंबर पर उनसे बातचीत भी हुई। पूर्व उपमुख्यमंत्री ने कहा कि लालू प्रसाद से बातचीत में कहा कि वे ऐसी गंदी हरकत नहीं करें। वे जेल में बंद हैं। विधायकों को तोड़ने की कोशिश कहीं से भी उचित नहीं है। लालू प्रसाद को सुशील मोदी ने दो टूक कहा कि एनडीए विधायकों को तोड़ने की कोशिश में वे कामयाब नहीं होंगे। उनकी मंशा कभी भी सफल नहीं होने वाली है।

बिहार विधानसभा अध्यक्ष चुने जाने के ठीक 1 दिन पहले ऐसी घटना सामने आई

बिहार विधानसभा अध्यक्ष के लिए होने जा रहे चुनाव से ठीक एक दिन पहले (बुधवार, 25 नवंबर को विधानसभा अध्यक्ष के लिए मतदान होगा) सुशील मोदी द्वारा लालू प्रसाद पर यह आरोप लगाया गया है। विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए एनडीए की ओर से विजय सिन्हा जबकि महागठबंधन से अवध बिहारी चौधरी को प्रत्याशी बनाया गया है। अध्यक्ष के चुनाव के लिए राज्यपाल फागू चौहान द्वारा बुधवार यानी 25 नवम्बर की तिथि निर्धारित है। बुधवार को सदन की कार्यवाही आरंभ होने तक यदि विपक्ष ने अपना नामांकन वापस नहीं लिया तो मतदान से विधानसभा के नए अध्यक्ष का फैसला होगा।

रिपोर्ट – स्वेता मेहता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0