इंजीनियर दिवस पर छात्रों ने जताया अपना दुख

पटना । बिहार सरकार द्वारा 1284 सहायक अभियंता ( असैनिक ) पदों के लिए बिहार लोक सेवा आयोग द्वारा दिनांक 13-03-2017 को विज्ञापन संख्या 02/2017 प्रकाशित हुआ या , जिसे दिनांक 08-11-2017 को पुन : प्रकाशित किया गया ।। इस विज्ञापन की प्रारंभिक परीक्षा दिनांक 15-09-2018 को पटना में 46 केन्द्रों पर संपन्न हुई , जिसमें 17866 मीदवारों ने परीक्षा दी । दिनांक 30-01-2019 को आयोग द्वारा 10125 अभ्यर्थियों को सफल घोषित किया गया । प्रारंभिक परीक्षा परिणाम घोषित होने के बाद , कुरु असफल उम्मीदवारों ने प्रारंभिक परीक्षा के कुछ ( 4 ) सवालो और आयोग द्वारा दिए गए उनके अधिकारिक उत्तर पर विरोध जताते हुए , पटना उच्च न्यायालय में मुकदमा दायर किया ।। मुकदमा CWIC no . 3670/2019 में दिनांक 26-03-2019 को माननीय न्यायधीश आशुतोष कुमार ने आदेश पारित कर आयोग को एक नए विशेषज्ञों की कमिटी बना कर विवादित प्रश्नो को पुनःआंकलन करने का निर्देश दिया । विवादित प्रश्नो के अधिकारिक उत्तर से कमिटी की असहमति होने पर , 10 सप्ताह के भीतर मुकदमाकर्ताओ के अलग से मुख्य परीक्षा लेने के निर्देश भी दिए । इसके साथ ही साथ आयोग को यह कहा की इन आदेशों की पूर्ति करते वक्त सामान्य न्युक्ति प्रक्रिया में कोई बाधा ना आए ।

बिहार लोक सेवा आयोग ने सफल अभ्यर्थियों के लिए दिनांक 27-03-2019 से दिनांक 31-03-2019 तक मुख्य परीक्षा का सफल आयोजन किया । बिहार लोक सेवा आयोग ने एकल पीठ के आदेश के विरुद्ध LPAG42 / 2019 माननीय उच्च न्यायालय में दायर किया । | LPA 642/2019 का सुनवाई अभी तक जारी है , क्योंकि मुकदमा में शामिल परीक्षार्थीगण जान बुझ कर टालमटोल की रणनीति के तहत , इस चयन प्रक्रिया को बाधित कर रहे हैं । इस बीच लगभग 10000 अभ्यर्थी बिना गलती के पीस रहे हैं । उक्त विज्ञापन के मुख्य परीक्षा का परिणाम अगस्त 2019 तक , तथा साक्षात्कार सितम्बर 2019 तक प्रस्तावित था , मगर हकीकत ये है की हम 10000 अभ्यर्थी मुख्य परीक्षा के परिणाम के लिए आज तक दर दर भटक रहे । इसके लिए हमने , शांति पुर्वक आयोग कार्यालय पर धरना भी दिया था , मगर सभी आश्वाशन के बावजूद हमें आज तक परिणाम नहीं मिला । जिस कारण हजारों परीक्षार्थी अवसाद और मानसिक तनाव में जिंदगी जीने को मजबूर हैं ।

रिपोर्ट – स्वेता मेहता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0