मानसून के दौरान में होने वाली विभिन्न आपदाओं से बचाव के संबंध में संवेदीकरण कार्यक्रम का किया गया आयोजन

मुजफ्फरपुर । मानसून के दौरान में होने वाली विभिन्न आपदाओं को लेकर एक कार्यक्रम का आयोजन डीआरआर ई-एकेडमी बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण एवं यूनिसेफ के संयुक्त तत्वावधान में किया गया।

डीआरआर ई- एकेडमी के तहत मुजफ्फरपुर जिला के ही अधिकारियों को बाढ़ की आपदा से बचाव की जानकारी दी गया।कार्यक्रम में मुजफ्फरपुर जिले के डीएम सहित जिला के ही सभी वरीय अधिकारी समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में उपस्थित थे।

इस कार्यक्रम की अध्यक्षता व्यास जी उपाध्यक्ष, बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के द्वारा किया गया व साथ ही आपदा जोखिम न्यूनीकरण बिहार का परिदृश्य एवं बाढ़ के दौरान सुरक्षा के ही उपाय एवं कोविड-19 की इस चुनौतियों एवं सावधानियों पर ही किया गया।

बिहार राज्य के संदर्भ में मानसून के दौरान होने वाली घटनाओं का परिदृश्य पर पीएन राय, सदस्य बीएसडीएमए के द्वारा महत्त्वपूर्ण प्रकाश डाला गया। आपदा जोखिमों से निपटने की पूर्व तैयारी और समुदाय की ही इसमे भागीदारी सुरक्षित शनिवार, डूबने की घटनाओं सुरक्षित नौका परिचालन,सर्प दंश प्रबंधन एवं सुरक्षात्मक उपाय तथा वज्रपात जोखिम नमन एवं प्रबंधन पर पीपीटी प्रस्तुतीकरण एवं विडियो क्लिपिंग के द्वारा लगभग सभी प्रतिभागियों के साथ साझा किया गया।

ऑनलाइन उन्मुखीकरण कार्यक्रम में उपस्थित डीएम डॉ०चन्द्रशेखर सिंह ने कहा कि मानसून के दौरान आने वाले विभिन्न आपदाएं अत्याधिक वर्षा, बाढ़ एवं वज्रपात सर्पदंश जैसी परिस्थितियों में व्यक्तिगत स्तर, सामुदायिक स्तर या पंचायत स्तर के साथ-साथ स्थानीय प्रशासन/ जिला प्रशासन स्तर, सभी पर पूर्व तैयारी करना आवश्यक हो जाता है व कहा कि आपदा आ जाने पर उससे बचने का ज्ञान या कौशल एवं उससे बचाव के तरीकों को जानकर उसको अपने दैनिक जीवन में और अपने पेशेवर जीवन में अपनाकर नुकसान एवं दुश्वारियों को कम किया जा सकता है।

रिपोर्ट – विशाल कुमार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0