सचिव सूचना एवं जन-सम्पर्क, सचिव स्वास्थ्य एवं अपर पुलिस महानिदेशक, पुलिस मुख्यालय ने कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर किये जा रहे कार्यों की अद्यतन जानकारी दी

पटना, 08 जून 2020:- मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार के निर्देश पर सचिव सूचना एवं जन-सम्पर्क श्री अनुपम कुमार, सचिव स्वास्थ्य श्री लोकेश कुमार सिंह एवं अपर पुलिस महानिदेशक, पुलिस मुख्यालय श्री जितेन्द्र कुमार ने कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर सरकार द्वारा किये जा रहे कार्यों के सम्बन्ध में अद्यतन जानकारी दी। 

    सचिव, सूचना एवं जन-संपर्क श्री अनुपम कुमार ने बताया कि कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति को लेकर सरकार द्वारा लगातार कार्रवाई की जा रही है और सभी आवश्यक कदम उठाये जा रहे हैं। अभी ब्लॉक क्वारंटाइन सेंटर्स की संख्या 5,991 है जिनमें 1 लाख 63 हजार 329 लोग आवासित हैं। ब्लॉक क्वारंटाइन सेंटर्स में अब तक 15 लाख 19 हजार 165 लोग आवासित हो चुके हैं। इनमे से 13 लाख 55 हजार 836 लोग क्वारंटाइन की निर्धारित अवधि पूरी कर अपने घर वापस जा चुके हैं। मुख्यमंत्री आपदा राहत कोष से मुख्यमंत्री विशेष सहायता योजना के अंतर्गत बाहर फंसे बिहार के 20 लाख 86 हजार 140 लोगों के खाते में प्रति व्यक्ति 1,000 रूपये की सहायता राशि भेजी जा चुकी है। असामयिक वर्षापात और ओलावृष्टि के कारण फरवरी, मार्च और अप्रैल महीने में किसानों की जो फसल क्षति हुई है, उसके लिए कृषि इनपुट अनुदान के तहत 730 करोड़ रूपये की राशि स्वीकृत की गयी है। इसमें से अब तक 425 करोड़ रूपये की राशि 12 लाख 50 हजार किसानों के खाते में अंतरित की जा चुकी है, शेष किसानों के आवेदनों का निष्पादन तेजी से किया जा रहा है और जल्द ही कृषि इनपुट अनुदान की राशि प्रभवित किसानों के खाते में भेज दी जायेगी।

श्री अनुपम कुमार ने बताया कि रोजगार सृजन पर सरकार का विशेष ध्यान है और सभी संबंधित विभाग रोजगार सृजन को लेकर किये जा रहे कार्यों की निरंतर मॉनिटरिंग कर रहे हैं। लॉकडाउन पीरियड से लेकर अभी तक लगभग 4 लाख 46 हजार से अधिक योजनाओं के अंतर्गत 5 करोड़ 43 लाख से अधिक मानव दिवसों का सृजन किया जा चुका है। श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के बिहार आने की प्रक्रिया अब अंतिम चरण में है। आज 2 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के माध्यम से 3,300 लोग बिहार पहुंच रहे हैं। कल के लिए 2 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें शिड्यूल्ड हैं जिनके माध्यम से 3,300 लोगों का आगमन संभावित है। 

स्वास्थ्य विभाग के सचिव श्री लोकेश कुमार सिंह ने बताया कि अब तक कुल 1 लाख 2 हजार 318 सैंपल्स की जांच की गयी है। राज्य में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 5,175 हो गयी है। पिछले 24 घंटे में कोरोना के 203 नये पॉजिटिव मामले सामने आये हैं। 24 घंटे में 137 लोग स्वस्थ हुए हैं और अब तक कुल 2,542 कोरोना संक्रमित मरीज ठीक होकर अपने घर वापस जा चुके हैं। बिहार के 38 जिलों में कोरोना संक्रमण के 2,602 एक्टिव मामले हैं। 3 मई के बाद बाहर से बिहार आने वाले लोगों में से 3,756 व्यक्तियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुयी है।

स्वास्थ्य सचिव ने बताया कि होम क्वारंटाइन में रहने वाले लोगों पर भी निगरानी रखी जा रही है। डोर टू डोर स्क्रीनिंग में ऐसे व्यक्तियों की 14 दिनों तक मॉनिटरिंग भी की जा रही है। स्क्रीनिंग टीम प्रतिदिन प्रवासियों के घरों पर जाकर स्वास्थ्य की जानकारी ले रही है और ये भी देख रही है कि वे होम क्वारंटाइन की गाइडलाइन्स का अनुपालन कर रहे हैं या नहीं। साथ ही स्क्रीनिंग दल यह भी देख रहा है कि उनमें कोविड-19 के लक्षण हैं अथवा नहीं। इस सर्वेक्षण में अब तक 5 लाख 35 हजार 756 घरों का सर्वेक्षण कराया जा चुका है। इनमें से अब तक 253 ऐसे व्यक्ति मिले हैं जिनको खांसी, बुखार या फिर सांस लेने में तकलीफ है।

अपर पुलिस महानिदेशक, पुलिस मुख्यालय श्री जितेन्द्र कुमार ने बताया कि 1 जून 2020 से गृह मंत्रालय द्वारा जारी की गयी नई गाइडलाइन्स का अनुपालन कराया जा रहा है। 1 जून से अब तक कुल 13 एफ0आई0आर0 दर्ज की गयी हैं और 38 लोगों की गिरफ्तारियां हुयी हैं। 6,538 वाहन जब्त किये गये हैं। कुल 1 करोड़ 79 लाख रुपये की राशि जुर्माने के रूप में वसूल की गयी है। पिछले 24 घंटे में अवरोध पैदा करने के कारण 2 एफ0आई0आर0 दर्ज की गयी हैं और 23 लोगों की गिरफ्तारियां हुयी हैं। इस दौरान 668 वाहन जब्त किये गये हैं और 17 लाख 78 हजार 600 रूपये जुर्माने के रूप में वसूल किये गये हैं। कोविड-19 से निपटने के लिये उठाये जा रहे कदमों और नए दिशा निर्देशों का पालन करने में अवरोध पैदा करने वालों के खिलाफ सख्ती से कदम उठाये जा रहे हैं।

’’’’’’’’’’’’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0