पटना (बिहार) : सीट बंटवारे से नाराज वीआईपी महागठबंधन से हुई अलग,मंच छोर भागे वीआईपी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश सहनी

रिपोर्ट: धीरज कुमार झा

पटना : बिहार विधानसभा चुनाव के लिए महागठबंधन में सीटों का बंटवारा हो गया है। तेजस्वी यादव को महागठबंधन का नेता चुना गया है। तेजस्वी ही महागठबंधन की ओर से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार होंगे। बता दें कि ,आरजेडी, कांग्रेस, सीपीआई(माले), सीपीआई, सीपीएम और वीआईपी महागठबंधन का हिस्सा हैं। बिहार में इस महीने के अंत में पहले चरण का चुनाव होना है।

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव विपक्षी गठबंधन के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार होंगे। लालू प्रसाद यादव के नेतृत्व वाली पार्टी कांग्रेस और वाम दलों के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ रही है। वहीं महागठबंधन में सीटों का बंटवारा हो गया है। जानकारी के मुताबिक, इस विधानसभा चुनाव में आरजेडी 144 सीटों पर चुनाव लड़ेगी, तो वहीं कांग्रेस के खाते में 70 सीटें होंगे।

महागठबंधन में सबसे ज्यादा सीटें आरजेडी के हिस्से आई हैं, जबकि दूसरे नंबर कांग्रेस वहीं वाल्मीकिनगर में लोकसभा उपचुनाव की सीट भी कांग्रेस को मिली है। इसके बाद सीपीआई माले को ज्यादा सीटे मिली हैं। इन तीन बड़ी पार्टियों के बाद सीपीआई और सीपीआई के बीच सीटों का बंटवारा हुआ है। वहीं आरजेडी के हिस्से से ही वीआईपी और जेएमएम को सीटें मिलेंगी।

हालांकि, सीट बंटवारे से नाराज वीआईपी अलग हो गई है। मुकेश सहनी ने भरे मंच से कहा है कि मेरे पीठ में खंजर भोंका गया है। वहीं मौके पर मौजूद वीआईपी कार्यकर्ता उग्र हो गये है और जमकर हंगामा भी किया।  वहीं पीसी से मुकेश सहनी भी निकल गये है। बता दें इससे पहले मुकेश सहनी ने कहा था कि महागठबंधन को एकजुट रखने के लिए वे कोई भी कुर्बानी देने को तैयार है। लेकिन जब सीटों के एलान में उनकी पार्टी का जिक्र नहीं किया गया तो वे नाराज हो गये। जिसके बाद उन्होंने भरे मंच से कहा कि मेरे पीठ में खंजर भोंका गया है। इसके बाद उन्होंने महागठबंधन से अलग होने का एलान कर दिया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0