पप्पू यादव ने बनाया नया मोर्चा, प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन में शामिल हुए 3 दल

पटना । जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर नया मोर्चा बनाया है. पप्पू यादव ने प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन यानी पीडीए बनाने की घोषणा कर दी है. इस गठबंधन में चंद्रशेखर आजाद की अध्यक्षता वाली आजाद समाज पार्टी, एमके फैजी के नेतृत्व वाली सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी यानी एसटीपीआई और बीपीएल मातंग की बहुजन मुक्ति पार्टी शामिल हुई है.

गठबंधन का ऐलान करते हुए जाप के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने किसे मानवतावादी और सब को लेकर चलने वाला गठबंधन बताया. उन्होंने कहा कि यह गठबंधन 30 साल के महापाप को समाप्त करने के लिए बनाया गया है. ‘जाप’ अध्यक्ष ने कहा कि उनकी बात राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा से भी हो रही है, उनका भी इस गठबंधन में स्वागत है.

दो दिनों में इस गठबंधन में और पार्टियां शामिल होंगी. उन्होंने लोजपा और कांग्रेस को भी इस गठबंधन में शामिल होने की दावत दी. पप्पू यादव ने दो दिनों के बाद कॉमन कॉमन मिनिमम प्रोग्राम बनाने की भी घोषणा की. इस अवसर पर उन्होंने एनडीए और महागठबंधन दोनों को निशाना बनाते हुए कहा कि 30 साल का यह महापाप अब खत्म होना चाहिए.

पप्पू यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर यह आरोप लगाया कि उन्होंने कोरोना वायरस और लॉकडाउन के दौरान गुजरात और दिल्ली में तड़पते बिहारियों की मदद नहीं की. उन्होंने नीतीश कुमार पर रघुवंश बाबू के अपमान का भी आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार लाश पर राजनीति कर रहे हैं.

भाजपा को निशाना बनाते हुए कहा कि यह पार्टी शिखंडी की तरह सब में खटास पैदा कर रही है. उनके अनुसार रामविलास पासवान और नीतीश कुमार के बीच विवाद पैदा करने वाली पार्टी भी बीजेपी ही है.पप्पू यादव ने इस बात पर आपत्ति की कि नीतीश कुमार को रामविलास जी के अस्पताल में भर्ती होने की सूचना नहीं है.

पप्पू यादव से जब यह सवाल किया गया कि क्या वह बिहार के किंग मेकर बनना चाहते हैं तो उन्होंने कहा कि वह किंग मेकर नहीं बल्कि बिहार के सबसे बड़े सेवक हैं. इस अवसर पर आजाद समाज पार्टी के चंद्रशेखर आजाद ने भी सवालों का जवाब दिया. आजाद ने कहा कि जहां भी न्याय की लड़ाई लड़ाई लड़ी जाएगी वह वहां जाएंगे. उन्होंने कहा कि यह गठबंधन सांप्रदायिक ताकतों और जातीय हिंसा को रोकने के लिए बना है. आज़ाद ने कहा कि कुछ लोग अहंकार में हैं और वे एसी के कमरों से बाहर नहीं निकल पाते और अत्याचार के खिलाफ संघर्ष नहीं करते हैं. मौके पर एस डी पी आई के एम के फैजी और बी एम पी से वालमातंग जी मौजूद थे.

रिपोर्ट – विक्रांत कुमार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0