मुंगेर पुलिस की कार्रवाई में चार हथियार तस्कर गिरफ्तार,14 हथियार बरामद।

मुंगेर पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह के निर्देश पर हथियार बनाने वालों और हथियार तस्करों के खिलाफ कार्रवाई लगातार जारी है।इसी कड़ी में असरगंज और मुफस्सिल थाना क्षेत्र में जिला आसूचना इकाई द्वारा कार्रवाई की गई एवं चार अपराधियों को गिरफ्तार किया गया।गिरफ्तार अपराधियों के पास से बड़ी संख्या में हथियारों की बरामदगी भी हुई है।स्थानीय थानों के सहयोग से ये कार्रवाई की गई।इस कार्रवाई में 7.65 एमएम की पांच पिस्टल,एक छह चक्रीय रिवाल्वर,6 कट्टा,7.65 एमएम की 50 जिंदा गोलियां,.315 बोर की 6 गोलियां तथा रिवाल्वर की एक गोली बरामद की गई।मुफस्सिल थाना क्षेत्र में मोहम्मद फजल और पंकज सिंह को गिरफ्तार किया गया।मोहम्मद फजल असरगंज थाना के विष्णुपुर का रहने वाला है,लेकिन फिलहाल वो बाकरपुर स्थित अपने ननिहाल में रहकर अवैध हथियारों के नेटवर्क को संचालित कर रहा था।पंकज सिंह खड़गपुर थाना क्षेत्र के मुंढेरी गांव का रहने वाला है और वो हथियारों को लाकर पहुंचाता था।असरगंज थाना क्षेत्र में की गई कार्रवाई में मोहम्मद शमशेर और सिंकु पाठक को गिरफ्तार किया गया। असरगंज थाना द्वारा एक रिवाल्वर और 7 गोलियां बरामद की गई हैं। गिरफ्तार सिंकु पाठक का लंबा आपराधिक इतिहास रहा है

एवं उस पर विभिन्न जिलों में लूट,डकैती, अपहरण,वाहन चोरी के साथ-साथ एक प्रखंड विकास पदाधिकारी के अपहरण का मामला भी दर्ज है।मोहम्मद शमशेर भी लूट के मामले में जेल जा चुका है और उसके खिलाफ भी कई मामले दर्ज हैं।मोहम्मद फजल की गतिविधियों पर भी जिला सूचना इकाई की नजर काफी दिनों से थी।पिछले एक महीने से उसकी गतिविधियों की निगरानी की जा रही थी।मोहम्मद फजल नाम के युवक की तलाश की गई और उसके बाद उस पर निगरानी रखनी शुरू कर दी गई थी।पंकज सिंह जब हथियार लेकर आया था तब उसके बाद फजल के ननिहाल स्थित घर पर छापामारी की गई और वहां से पांच पिस्टल,5 कट्टा और 50 जिंदा गोलियां बरामद की गई थी।मुंगेर पुलिस द्वारा अवैध हथियार बनाने वालों के खिलाफ जबर्दस्त अभियान चलाया जा रहा है।नेटवर्क में शामिल धंधेबाजों की पहचान कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।पुलिस अधीक्षक द्वारा सभी थानाध्यक्षों को कार्रवाई के निर्देश दिए गए थे और उसी आलोक में जिला आसूचना इकाई द्वारा स्थानीय थानों के साथ मिलकर लगातार कार्रवाई की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Shares