मोकामा पुलिस ने शराब तस्करों को दिया चकमा, लूंगी गंजी में पहुंच की कार्रवाई

Mokama police dodge liquor smugglers, access to action in lungi skimmer

मोकामा । शराबबंदी के बावजूद भी बिहार में धड़ल्ले से शराब बिक रही है जिस पर लगाम लगाने की पुलिस की तमाम कोशिशें नाकाम होती दिख रही हैं ।पुलिस की तमाम सक्रियता के बावजूद शराब तस्कर अपना धंधा फैलाने की कोशिशों में लगे रहते हैं लेकिन पुलिस भी शराब तस्करों के मंसूबों को ध्वस्त करने में जी-जान से जुटी हुई है. ऐसा ही एक मामला पटना जिला में सामने आया है जब शराब तस्करों को चकमा देने के लिए पुलिस लुंगी-गंजी में दियारा पहुंच गई और हजारों लीटर शराब को बरामद किया. पुलिस की इस कार्रवाई में अवैध शराब बनाने के बहुत बड़े खेल का खुलासा हुआ है।


पटना जिले के बाढ़ अनुमंडल अंतर्गत मोकामा थाना द्वारा यह कार्रवाई की गई है. सहायक पुलिस अधीक्षक अंबरीष कुमार राहुल के निर्देश पर शराब तस्करों के खिलाफ बाढ़ अनुमंडल की पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है. इसी कड़ी में एएसपी के निर्देश पर मोकामा थानाध्यक्ष द्वारा कार्रवाई की गई. दरअसल मोकामा थानाध्यक्ष को यह सूचना मिली थी कि सुल्तानपुर दियारा इलाके में शराब बनाई जा रही है. गंगा के उस पार घनी झाड़ियों के बीच में शराब बनाए जाने की सूचना मिली थी. मुखबिरों द्वारा मिली पक्की सूचना के बाद मोकामा थानाध्यक्ष द्वारा छापामारी की योजना बनाई गई. हालांकि सबसे बड़ी परेशानी यह थी कि पुलिस को देखकर तस्कर भाग सकते थे और पुलिस को खाली हाथ लौटना पड़ सकता था.

दरअसल गंगा नदी पार करने के लिए घाट पर पहुंचते ही शराब तस्करों को सूचना मिल जाती है और शराब तस्कर शराब को छुपा देते हैं या फिर उसे लेकर गायब हो जाते हैं. शराब तस्करों पर नकेल कसने के लिए ही पुलिस ने सादे लिबास में जाने की रणनीति बनाई. मोकामा थानाध्यक्ष राज नंदन खुद आम किसान का वेश बनाकर दियारा चले गए उनके साथ कुछ पुलिस वाले थे. लुंगी- गंजी और किसानी लिबास में कई पुलिस जवान गंगा पार पहुंच गए और उसके बाद छापामारी शुरू कर दी गई. दरअसल पुलिस ने यह रणनीति इसलिए अपनाई ताकि पुलिस के आने की भनक शराब तस्करों को न लगे और मुकम्मल कार्रवाई की जा सके.


सुल्तानपुर दियारा में बड़े पैमाने पर अवैध शराब बनाया जा रहा था. पुलिस ने 1000 लीटर से अधिक शराब को नष्ट किया है. 50 लीटर निर्मित शराब की बरामदगी हुई है. पुलिस के लिए यह बड़ी सफलता इसलिए मानी जा रही है कि गंगा नदी के उस पार घनी झाड़ियों के बीच में जमीन में गड्ढा कर शराब बनाए जा रहे थे और एक पूरा सेटअप लगाया गया था. पुलिस की सक्रियता से अवैध शराब का यह सेटअप पूरी तरह से ध्वस्त हो गया. मोकामा थानाध्यक्ष द्वारा शराब तस्करों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है.

रिपोर्ट – आदित्य कुमार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0