वोट के लिए जागरूक करने की कला में माहिर अभिनेता राजन कुमार

संवाददाता.पटना.चुनाव आयोग ने स्पष्ट कर दिया है कि बिहार में समय पर ही विधान सभा चुनाव कराए जाऐंगें। कोरोना महामारी और बाढ़ की विकराल समस्या की विषम परिस्थितियों में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ शत-प्रतिशत मतदान करा लेना आयोग के सामने बड़ी चुनौती है। इस परिस्थिति में एक ऐसे नायक की आवश्यकता है जो सामाजिक दूरी के साथ अपने वोट डालने के लिए लोगों के बीच जागरूकता पैदा कर सके।चाहे डिजिटल मीडिया के माध्यम से हो या नुक्कड़-नाटक कार्यक्रम के जरिये हो।क्योंकि लोकतंत्र के हित और जनता भलाई के लिए शत-प्रतिशत मतदान,समाजिक दूरी के साथ नितांत आवश्यक है।

इस सन्दर्भ में चार्ली चैंपियन द्वितीय नाम से चर्चित और कई फिल्मों में अभिनय कर चुके मुंगेर जिला के लोकसभा चुनाव के एम्बेसडर और एंटी कोरोना एम्बेसडर अभिनेता राजन कुमार का नाम सामने आता है। जो पिछले कई वर्षो से बिहार को गौरवांतित करने के लिए निष्पक्ष और नि:स्वार्थ भाव से काम कर रहे है।गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड्स द्वारा चार्ली चैपलिन द्वितीय का ख़िताब पाने वाले राजन कुमार उर्फ़

चार्ली को इलेक्शन कमिशन ऑफ इंडिया 2019 के आइकॉन के रूप में जब चुना गया तो उन्होंने लगातार मतदाताओं को जागरूक करने के लिए सक्रिय रहे। इसके अलावा राजन कुमार सामाजिक गतिविधियों में लगातार अपनी सक्रियता बनाए हुए हैं। राजन कुमार वोटिंग को देश भक्ति से जोड़कर देखते हैं। हीरो राजन कुमार मतदाताओं को लगातार इंस्पायर करते हैं। पिछले चुनाव में बिहार के रूरल एरिया में डायरेक्ट पब्लिक के बीच पहुँच कर राजन कुमार ने अपनी जिम्मेदारियों को निभाया है। उन्होंने आइकॉन के रूप में जागरूकता अभियान के तहत 101 पंचायतों में जाकर लोगों को अन्दर से वोट डालने के लिए जागरूक किया। इस काम में मुंगेर जिला तत्कालीन निर्वाचन पदाधिकारी राजेश मीणा का उन्हें भरपूर सहयोग मिला।

राजन कुमार का नजरिया इस मामले में स्पष्ट है।वे कहते हैं, मैं अपनी जिम्मेदारियों को पूरी दिलचस्पी के साथ निभाता रहा हूं। मैं पब्लिक के बीच जाता हूँ और लोगों को वोट की अहमियत का एहसास करवाता हूँ और उन्हें अपने अधिकार का इस्तेमाल करने के लिए भी लगातार प्रेरित करता हूँ। उनका मानना है कि मतदाताओं को बार बार जगाने की जरुरत है.राजन कुमार हालाँकि मुंबई जैसे शहर में रहते हैं और यहाँ फिल्मो और अपने लाइव शोज़ के टाईट शेड्यूल में से समय निकाल कर लोगों को वोटिंग के लिए जागरूक करते रहे हैं. उनका कहना है कि लोगों को चाहिए कि किसी को वोट दें तो बहुत सोच समझ कर दें, क्योंकि यह अधिकार सिर्फ मतदाता को मिला हुआ है। इसलिए इसके सही इस्तेमाल की आवश्यकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0