जिलाधिकारी से डीईओ की शिकायत हरिमोहन सिंह ने की

मुंगेर । मुंगेर जिलाधिकारी रचना पाटिल से मुंगेर जिला एसोसिएशन ऑफ पीडब्ल्यूडी के प्रेसिडेंट हरिमोहन सिंह ने दिनांक 18 अक्टूबर 2020 को जिला शिक्षा पदाधिकारी दिनेश कुमार चौधरी के द्वारा अपने ऑफिस अभद्र व्यवहार करने को लेकर ज्ञापन देकर शिकायत की । उन्होंने बताया कि मैं निस्वार्थ भाव से जिले में कला-संस्कृति एवं खेलकूद को बढ़ावा देने के लिए विगत कई वर्षों से कार्य करते आए हैं , और इसके लिए उनके बिहार के मुख्यमंत्री, कला-संस्कृति एवं खेलकूद मंत्री , समाज कल्याण मंत्री के हाथों सम्मानित किया जा चुका है । उन्होंने बताया कि
खास बात ये है , कि बाल किलकारी भवन पटना के कॉडिनेटर संगीता दत्त के अनुसार सभी प्रमंडल मुख्यालय के आस पास बाल किलकारी भवन बनना तय था । जिसके लिए सभी संबंधित डी ए ओ से प्रस्ताव भी मांगा गया था । पर अबतक बहोत बहोत अफसोस की बात ये है , कि बिहार में सिर्फ मुंगेर और बिहार की ओर से प्रस्ताव नहीं भेजा गया ना ही इसकी कोई जानकारी दी गई।

ज्ञात हो कि हरिमोहन सिंह निस्वार्थ भाग से जिले के स्पेशली दिव्यांग एवं महिला खिलाड़ियों को स्पोर्ट्स फील्ड में राष्ट्रीय स्तर पर बढ़ावा देने के लिए कार्य करते हैं , ये मुंगेर जिला एसोसियेशन ऑफ पीडब्ल्यूडी के प्रेसिडेंट भी हैं एवं इस बार विधानसभा इलेक्शन में पीडब्ल्यूडी स्वीप आइकॉन के रूप में तौर पर मतदाता जागरूकता फैलाने के लिए निस्वार्थ भाव से अपनी सेवा दे चुके हैं ।

क्या शिक्षा पदाधिकारी किसी कला, संस्कृति प्रेमी से इसी तरह का बर्ताव करते हैं । ये बहोत बड़ा मुंगेर का दुर्भाग्य रहा है , कि यहां पर जिला शिक्षा पदाधिकारी के द्वारा कला संस्कृति प्रेमी के साथ इस तरह का बर्ताव किया जा रहा है ।

इस बर्ताव के बाद हरिमोहन सिंह ने अपना ज्ञापन जिलाधिकारी रचना पाटिल को देकर मुंगेर प्रमंडल में किलकारी भवन निर्माण बनाने में अपनी ओर से इसकी महत्व एवं आवश्यकता को ध्यान रखते हुए , मुंगेर प्रमंडल में किलकारी बाल भवन बनाने की योजना में रुचि लेते हुए अमल करने की रिक्वेस्ट किए । इसके निर्माण होने से मुंगेर प्रमंडल व जिला के सरकारी विद्यालयों में पढ़ने वाले बच्चों को उनके रुचि के अनुसार ड्रामा , नृत्य , संगीत सहित अन्य सभी विधाओं में प्रशिक्षण मिल सकेगा और वो कला-संस्कृति छेत्र में आगे बढ़ कर अपना जिला एवं प्रमंडल का नाम रौशन कर सकेंगे ।

रिपोर्ट – विवेक कुमार यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Shares