गिरिराज सिंह को हवावाज बताने वाले रेलवे अधिकारी पर गिररा गाज ,हुबली किया ट्रांसफर

गिरिराज सिंह को हवावाज बताने वाले रेलवे अधिकारी पर गिरी गाज, फजीहत के बाद रेल मंत्री ने हुबली किया ट्रांसफर

Patna : केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के साथ साथ बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा की भी हैसियत बताने वाले रेलवे अधिकारी पर गाज गिर गयी है. सरकार की भारी फजीहत के बाद रेल मंत्री के आदेश पर अधिकारी अरविन्द रजक का तबादला कर दिया गया है. पूर्व मध्य रेलवे, हाजीपुर में तैनात अरविंद रजक को दक्षिण पश्चिम रेलवे में भेज दिया है. इस रेलवे का हेडक्वार्टर कर्नाटक के हुबली में है.

दरअसल लखीसराय जिले के बड़हिया निवासी मनोरंजन सिंह ने पूर्व मध्य रेलवे के चीफ ट्रैफिक प्लानिंग मैनेजर(CPTM) अरविंद रजक को बड़हिया रेलवे स्टेशन पर गाड़ियों के ठहराव को लेकर टेलीफोन कॉल किया था. बेलगाम हो गये रेलवे अधिकारी ने टेलीफोन कॉल पर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह की ही हैसियत बतानी शुरू कर दी. अरविंद रजक ने फोन कॉल पर मंत्री गिरिराज सिंह को ही नहीं बल्कि पूरे बड़हिया के लोगों को ही हवावाज बताना शुरू कर दिया. उन्होंने कहा कि 90 परसेंट बड़हिया के लोग हवावाज ही है.

रेलवे के एक जूनियर अधिकारी द्वारा केंद्रीय मंत्री को हवावाज, फांय फांय करने वाला बताये जाने का ऑडियो वायरल होने के बाद रेलवे मंत्री पीयूष गोयल एक्शन में आये. शाम होते-होते अधिकारी अरविंद रजक का ट्रांसफर पूर्व मध्य रेलवे से कर्नाटक के हुबली में दक्षिण पश्चिम रेलवे में कर दिया गया.

बता दें कि अरविंद रजक भारतीय रेल यातायात सेवा के 1995 बैच के अधिकारी हैं. पिछले 26 सालों से वे पूर्व मध्य रेलवे में ही जमे हैं. वे पूर्व मध्य रेलवे के चीफ पीआरओ, सोनपुर मंडल के ADRM से लेकर कई पदों पर तैनात रह चुके हैं. अरविंद रजक लालू यादव के रेल मंत्री काल में बड़े पॉवरफुल माने जाते थे.

रिपोर्ट – स्वेता मेहता

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Shares