1 जून को है गंगा दशहरा, जानें- गंगा माता की पूजा का शुभ मुहूर्त और महत्व क्या हैं ?


हिंदी पंचांग के अनुसार, ज्येष्ठ माह में शुक्ल पक्ष की दशमी को गंगा दशहरा मनाया जाता है। इस साल 1 जून को गंगा दशहरा है। इस दिन गंगा नदी में स्नान-ध्यान करने से व्यक्ति को सभी पापों से मुक्ति मिलती है। इस दिन दान का भी अति विशेष महत्व है। धार्मिक मान्यता है कि गंगा नाम के स्मरण मात्र से व्यक्ति के पाप मिट जाते हैं। हिन्दू धर्म में इस नदी को सबसे पवित्र नदी माना गया है। अतः इन्हें मां कहकर पुकारा जाता है।

गंगा दशहरा शुभ मुहूर्त

इस दिन शुभ मुहूर्त दोपहर 2 बजकर 37 मिनट तक है। इस दौरान आप स्नान-ध्यान और दान कर सकते हैं।

गंगा दशहरा महत्व

रोगं शोकं तापं पापं हर मे भगवति कुमतिकलापम्।
त्रिभुवनसारे वसुधाहारे त्वमसि गतिर्मम खलु संसारे॥
अब तिलांजलि दें। इसके बाद गंगा मैया की पूजा आराधना करें। इस दिन गरीबों, ब्राह्मणों एवं जरुरतमंदो को दान-दक्षिणा देना बहुत फलदायी होता है।

इस दिन मां गंगा का अवतरण पृथ्वी लोक पर हुआ है। अतः गंगा दशहरा का विशेष महत्व है। श्रद्धालु इस दिन गंगा नदी में आस्था की डुबकी लगाते हैं। धार्मिक मान्यता है कि इस दिन गंगा नदी में स्नान करने से व्यक्ति को मोक्ष की प्राप्ति होती है। धार्मिक ग्रंथों में लिखा है कि गंगा नदी में स्नान, नर्मदा नदी के दर्शन और क्षिप्रा नदी के नाम मात्र जपने से व्यक्ति को मोक्ष की प्राप्ति होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0