प्रवासी श्रमिकों को अब रोजगार मुहैया कराने की हो रही कोशिशों ने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया है

मुजफ्फरपुर । कोरोना काल मे आगंतुक श्रमिकों को अब रोजगार मुहैया कराने के उद्देश्य से तिरहुत लहठी उत्पादक स्वालम्बी सहकारी समिति के द्वारा गठित समूह के सदस्यों के साथ संवाद कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसके तहत डीएम डॉ०चन्द्रशेखर सिंह, डीडीसी सुनील कुमार झा SDO पूर्वी कुंदन कुमार के साथ अन्य पदाधिकारियों ने समूह के सदस्यों के साथ संवाद को स्थापित किया साथ ही लहठी निर्माण के विभिन्न चरणों से वे अवगत हुए व उनके समस्याओं के भी संबंध में आज जानकारी हासिल की गई।

बता दें कि तिरहुत लहठी उत्पादक स्वावलंबी सहकारी समिति के द्वारा बताया गया कि समूह में कुल 45 सदस्य हैं।एक ग्रुप में 6 सदस्य होंगे।इस तरह से सात ग्रुप बनाया जाएगा प्रत्येक ग्रुप को दो भट्टी,एक छोटा वाला गैस सिलेंडर और अन्य उपकरणों के साथ तीन माह का कच्चा मटेरियल भी उपलब्ध कराया जाएगा।

प्रशिक्षण के उपरांत वे लहठी का निर्माण अपने घरों पर कर सकेंगे।लहठी के निर्माण के साथ उसकी बिक्री यानी उत्पादित वस्तुओं को भी बाजार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से भी कार्य किए जा रहे हैं।इसके मार्केटिंग के लिए व्यवस्था की जा रही है व मार्केटिंग के लिए एक शोरूम और प्रशिक्षण केंद्र भी बनाया जाएगा।उसके लिए भी जगह चिन्हित कर लिया गया है।एक सप्ताह के अंदर कार्य शुरू हो जाएगा और जिले के थोक विक्रेताओं के साथ समन्वय स्थापित करके उनके साथ उन्हें टैग किया जाएगा ताकि निर्मित लहठी को बाजार मिल सके और बनाई गई लहठी की बिक्री पटना के खादी मॉल से भी की जाएगी।

विशाल कुमार की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0