समाजसेवा के क्षेत्र में डॉ दयाल फाउंडेशन का कार्य सराहनीय : डॉ सुधा वर्गिज

पटना : राजधानी पटना में आज गरीब व जरूरतमंद 10 महिलाओं को आत्‍मनिर्भर बनाने के लिए डॉ दयाल फाउंडेशन द्वारा आज सिलाई मशीन का वितरण किया गया। डॉ दयाल फाउंडेशन निशांत दयाल और पद्मश्री सुधा वर्गिज ने सिलाई मशीन का वितरण फाउंडेशन की चेयर पर्सन डॉ. रीता दयाल की 70 वीं जयंती, डॉ कृष्‍णेश्‍वर दयाल की 91 वीं जयंती और सावित्री दयाल की 91 वीं जयंती के अवसर पर किया। इस मौके पर श्री रजनीश्वर दयाल, श्री रवि दयाल श्री गंगेश्वर प्रसाद और श्री विवेक दयाल भी मौजूद थे। इस दौरान सुधा वर्गिज ने अपने संबोधन में कहा कि दयाल फाउंडेशन हमेशा से समाजसेवा के क्षेत्र में सराहनीय कार्य करती रही है। इसके लिए ये बधाई के पात्र हैं।

वहीं, निशांत दयाल ने कहा कि 26 और 27 सितंबर को हमारे परिवार के तीन महान लोगों का जयंती है, जिसको सेलिब्रेट करते हुए हम हर साल गरीब व जरूरतमंद महिलाओं को सिलाई मशीन देते हैं, ताकि वे अपनी आजिविका अपने दम पर चला सकें। वे आत्‍मनिर्भर बनें और अपने परिवार का भरण पोषण सही तरीके से कर सकें। आज भी हमने पटना में अपने आवास पर सोशल डिस्‍टेंसिंग के साथ 10 महिलाओं को सिलाई मशीन दिया। इसके अलावा मुंबई में 35, दिल्‍ली में 45 और बंगलोर में 30 महिलाओं के बीच सिलाई मशीन का वितरण किया गया। हम हमारे लिए गौरव की बात है।

निशांत ने कहा कि हमारे फाउंडेशन के साथ सिलाई प्रशिक्षण संस्थान भी संलग्न हैं, जो न केवल महिलाओं को विभिन्न कपड़े सिलाई का प्रशिक्षण देते हैं, बल्कि अपने उत्पादों को प्रदर्शित करने और बेचने के लिए DDF की प्रदर्शनियों में भी भाग लेने का मौका प्रदान करते हैं। प्रदर्शनी में बिक्री से होने वाले आय सीधे उन महिलाओं के पास जाती है, जिन्होंने उत्पाद बनाए हैं।

DDF की स्थापना पटना के प्रख्यात डॉक्टर डॉ कृष्‍णेश्‍वर दयाल की याद में की गई थी, जिन्होंने 2003 में हमें छोड़ दिया। DDF के द्वारा हम बैंगलोर और पटना में, क्रमशः 59 बच्चों के साथ, दो अनाथालयों का संचालन सक्रिय रूप से हम करते हैं। हम बाल हृदय ऑपरेशन, मेगा कंबल वितरण, क्रिकेट किट वितरण और समय-समय पर सिलाई मशीन वितरण के साथ-साथ चिकित्सा शिविरों में भी मदद करते हैं।

रिपोर्ट – श्वेता मेहता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0