गणेश चतुर्थी एवं मोहर्रम पर्व को लेकर जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक, दिए गए कई निर्देश

मुजफ्फरपुर । मुज़फ्फरपुर में मोहर्रम के साथ ही गणेश चतुर्थी को लेकर डीएम डॉ० चंद्रशेखर सिंह की अध्यक्षता में जिला शांति समिति के सदस्य के साथ बैठक आयोजित की गई। जिसमें एसएसपी जयंत कांत के साथ अनुमंडल पदाधिकारी,अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी ,शांति समिति के सदस्य गण के साथ जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।बैठक में पूर्व के भांति इस वर्ष भी आगामी मुहर्रम एवं एवं गणेश चतुर्थी पर्व आपसी भाईचारा एवं सौहार्द के साथ मने इस बात पर विचार विमर्श किया गया। कोरोना महामारी को देखते हुए सरकार द्वारा निर्धारित गाइडलाइन का अक्षरशः पालन कराने का आश्वासन सभी सदस्यों और राजनीतिक दलों के भी कई प्रतिनिधियों द्वारा दिया गया। कोरोना महामारी के प्रकोप को देखते हुए गणेश चतुर्थी और मुहर्रम पर्व को घरों में रहकर ही पूजा/इबादत की बात पर पूरी सहमति जताई।

बैठक में डीएम ने कहा कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए मोहर्रम एवं गणेश चतुर्थी पर्व को शांति एवं सौहार्द पूर्ण तरीके से मनाने के लिए सरकार ने गाइडलाइन जारी किया है और यह कहा कि गणेश चतुर्दशी एवं मुहर्रम पर्व के दौरान सार्वजनिक स्थल पर किसी प्रकार का धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन नहीं होगा।इसके अलावा सार्वजनिक स्थलों पर कोई प्रतिमा स्थापित नहीं की जाएगी।वहीं त्योहार के दौरान झांकी एवं ताजिया निकालने पर भी पूरी तरह से प्रतिबंध रहेगा।उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा प्रशासन के दिशा – निर्देशों का अनुपालन नहीं करने वाले के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी कहा कि आपसी सौहार्द और भाईचारा में खलल डालने वाले तत्वों को बख्शा नहीं जाएगा।

एसएसपी जयंतकांत ने भी सहयोग की अपेक्षा की और कहां की हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी आपके सहयोग से आगामी पर्व/ त्योहारों को शांतिपूर्ण सौहार्दपूर्ण तरीके से मनाने में हम सफल होंगे।उन्होंने कहा कि मुहर्रम के दिन किसी भी अखाड़े से ताजिया जुलूस नहीं निकाला जाएगा। साथ ही शस्त्र प्रदर्शन के अलावा डीजे एवं लाउडस्पीकर बजाने पर भी पूरी तरह से प्रतिबंध रहेगा।मौके पर जिला शांति समिति के सभी सदस्य मौजूद रहे।

रिपोर्ट – विशाल कुमार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0