सड़क हादसे में कोर्ट जा रहे हैं वरिष्ठ सहायक की मौत

Death of senior assistant going to court in road accident

कैमूर जिले के nh2 पथ से एक बड़ी खबर सामने आ रही है जहां सड़क हादसे में एक मौत की खबर है जहाँ वरिष्ठ सहायक के पद पर डिस्ट्रिक्ट एंड सेशन कोर्ट चंदौली में कार्यरत थे कार पर सवार होकर कोर्ट जा रहे थे तभी सड़क दुर्घटना का शिकार हो गए।

मिली जानकारी के अनुसार मोहनिया थाना क्षेत्र के पुसौली गांव के भोपतपुर गांव निवासी सुनील चौबे प्रतिदिन की तरह कार पर सवार होकर अपने गांव से उत्तर प्रदेश चंदौली कोर्ट जा रहे थे तभी देवकली गांव के पास एक ओवरलोड ट्रक उनके कार पर अनियंत्रित होकर पलट गई जिसके चलते कार में दबने से उनकी मौत हो गई।

वहीं लोगों में इस बात की चर्चा होने लगी है कि कल ही यानी गुरुवार को खनन मंत्री जनक चमार जी ने मोहनिया में मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि ओवरलोड वाहनों पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है उसके बावजूद भी ओवरलोड वाहन चलते हैं तो उन पर पूरी तरह से करवाई की जाएगी वहीं एक तरफ खनन मंत्री करवाई करने की बात करते हैं तो दूसरी तरफ nh2 पथ पर धड़ल्ले से ओवरलोड वाहनों का परिचालन शुरू है उसी परिचालन में आज यानी शुक्रवार के दिन कार में सवार डिस्टिक एंड सेशन कोर्ट चंदौली जा रहे वरिष्ठ सहायक की 14 चक्के ओवरलोड वाहन के अनियंत्रित होकर कार के ऊपर पलटने से उनकी मौत हो गई है वही लोगों द्वारा बताया गया कि एनएचआई को बार बार सूचना दिया जाता था कि nh2 पथ पर कार के ऊपर बालू लदे ओवरलोड ट्रक को पलटने से कार में दबे एक व्यक्ति की मौत हो गई है उसके बावजूद भी एनएचआई की टीम लापरवाही बरतते दिखाई।

बिहार सरकार के गजट में 14 चक्के पर पाबंदी लगा दी गई है उसके बावजूद भी एन एच दो पथ पर धड़ल्ले से ओवरलोड ट्रकों का परिचालन शुरू है कहीं ना कहीं ओवरलोड वाहनों को रोकने में विफल रहे ये अधिकारी डीटीओ आरटीओ एनएचआई खनन पदाधिकारी सवाल यह खड़ा होता है कि बिहार सरकार के गजट में 14 चक्के और 12 चको पर रोक लगा दी गई है इसके बावजूद भी धड़ल्ले से शुरू है ओवरलोड वाहनों का परिचालन कहीं ना कहीं इन सब के पीछे अधिकारियों की मिलीभगत तो नहीं ओवरलोड वाहनो के चलते प्रतिदिन nh2 पथ पर सड़क दुर्घटना में किसी ना किसी की मौत हो जाती है।तो वही बालू लदे ओवरलोड ट्रकों से पानी टपकने से सड़क भी टूट जाते हैं इसके बावजूद ही एनएचआई और खनन पदाधिकारी रोक लगाने में विफल दिख रहे हैं।

जैसे ही घटना के बारे में पता चला तो आसपास के इलाके के लोग इकट्ठा हो गए जिसके बाद काफी मशक्कत करने के बाद मृतक को गाड़ी से निकाला गया इसकी जानकारी स्थानीय लोगों द्वारा परिजनों को दी गई वही घटना की सूचना पर पहुंची मोहनिया पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भभुआ भेज दिया।

कैमूर से विवेक कुमार सिन्हा की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0