नेशनल जर्नलिस्ट एसोसिएशन के पत्र पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लिया संज्ञान,डीजीपी से मिले संगठन के प्रदेश पदाधिकारी

Chief Minister Nitish Kumar took cognizance on the letter of the National Journalist Association, the state official of the organization met the DGP

पटना : बिहार प्रदेश के डीजीपी संजीव कुमार सिंघल से प्रदेश के संयुक्त सचिव विवेक कुमार एवं मनोज कुमार सिंह एवं अन्य कई संघठन के पत्रकार ने मिलकर पत्रकार संबंधित मामले में उच्चस्तरीय जांच कर दोषी पदाधिकारी पर आवश्यक कार्रवाई करने का मांग किया गया है। वहीं डीजीपी ने संघ के द्वारा दिए गए आवेदन पर त्वरित कार्रवाई करते हुए नालन्दा मे एपीएन न्यूज के संवाददाता आरजु बख्स पर जानलेवा हमले एवं खगड़िया के पत्रकार सुमलेश कुमार के मामले में एसपी को जांच का आदेश जारी कर दिया हैं।साथ ही उचित करवाई का आश्वासन दिया है ।

ज्ञात हो कि एपीएन न्यूज के संवाददाता आरजु बख्स पर अपने गाँव नालन्दा जिले के अस्थावाँ थाना क्षेत्र के माँफी गाँव में रात के 9,30 रात्री मे हथियार के बट और लोहे की रड से मार कर बुरी तरह जख्मी कर दिये, जब पत्रकार आरजु बख्स विहोश होकर गिर पडे, तो पत्रकार की हत्या की नियत से अपराधी घसीट कर अपने साथ ले जाने लगे .तभी गाँववाले को आता देख अपराधी जख्मी पत्रकार को छोडकर गोली फायर करते फरार हो गए। सदर अस्पताल आने के बाद भी पत्रकार आरजु बख्स की हालत बिगड़ता देख डाक्टर ने पावापुरी अस्पताल रेफर कर दिया . अभी पत्रकार का इलाज पीएमसीएच में चल रहा है।

वही जैसे ही नेशनल जर्नलिस्ट एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष को पत्रकार पर हमले की जानकारी हुई .तो राष्ट्रीय अध्यक्ष ने इसकी सूचना मुख्यमंत्री,डीजीपी, आईजी, डीआईजी, समेत प्रदेश के सभी आला अधिकारी को पत्र और व्ट्सप के जरिया दिया। बिहार के मुख्यमंत्री ने तुरन्त संज्ञान लेते हुये, डीजीपी को फारवर्ड किया ,.नालन्दा एस पी .बिहार शरीफ डी एस पी सदर से बात कर मामले की जानकारी लिया .वंही राष्ट्रीय अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री को एक ज्ञापन सौप पत्रकार के परिवार के उपर हुये झुठे मुकदमा को हटाने की माँग की।

पीड़ित पत्रकार ने बताया की मैं संगठन का शुक्रगुजार हूं, जिस तरह से आप लोगों ने एक्शन लिया वैसे ही प्रशासनिक में हड़कंप मच गया और अपराधियों पर प्रशासनिक दबाव बनने लगा है।कल पीएमसीएच डिस्चार्ज कर देगा। नेशनल जर्नलिस्ट एसोसिएशन के सारे टीमों का सदा आभारी रहूंगा। संगठन के माध्यम से प्रशासन पर दबाव बढ़ा है।

वही, नेशनल जर्नलिस्ट एसोसिएशन के प्रदेश उपाध्यक्ष सी के झा ने खगड़िया सुमलेश कुमार के आवेदन के आलोक में राष्ट्रीय अध्यक्ष राकेश कुमार गुप्ता को पत्र लिखकर ध्यान आकर्षित किया था । राष्ट्रीय अध्यक्ष के निर्देश से संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष चंदन कुमार झा ने मुख्यमंत्री और डीजीपी समेत प्रदेश के आला अधिकारी को खत लिख कर मामले की जानकारी दी ।

वही संघठन के पत्र पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उक्त मामले की जांच डीजीपी बिहार को सौंप दिया। जिससे पुरे पुलिस महकमे में हड़कंप मचा हुआ है। मुख्यमंत्री सचिवालय ने मामले को जांच हेतु डीएम नालंदा एवं डीएम खगड़िया को लिखा है। बिहार मे पत्रकारों पर बढ़ते हमले एवं फर्जी मुकदमे की नेशनल जर्नलिस्ट एसोसिएशन ने कठोर शब्दों में निंदा की है । संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष राकेश कुमार गुप्ता समेत सघठन के तमाम पदाधिकारी ने मुख्यमंत्री,डीजीपी, आईजी, डीआईजी, समेत प्रदेश के सभी आला अधिकारी को पत्र लिख अपराधियों के गिरफ्तारी एवं पीड़ित पत्रकार की सुरक्षा की मांग की है। एवं उन्होंने कहा है कि पत्रकारों पर किसी भी प्रकार का हमला संगठन बर्दाश्त नहीं करेगी, सरकार पत्रकार की सुरक्षा सुनिश्चित करे और जल्द ही पत्रकार सुरक्षा कानून लागु करे, ताकि बिहार में सुशासन का राज कायम रहे और पत्रकार निर्भीक होकर अपने कर्तव्यों का पालन कर सके।

नेशनल जर्नलिस्ट एसोसिएशन के राष्ट्रीय मुख्य संरक्षक रमेश ठाकुर, डॉ जितेंद्र कुमार सिंह, राष्ट्रीय प्रधान सलाहकार मुकेश कुमार सिंह, महासचिव संजय कुमार सुमन, सचिव नीरज कुमार सिंह, संगठन सचिव अभिषेक कुमार श्रीवास्तव, कोषाध्यक्ष अरविंद पाठक, संजीव कुमार गुप्ता, संजय विजित्वर एवं बिहार प्रदेश के अध्यक्ष अबोध ठाकुर, वरिय उपाध्यक्ष चन्दन कुमार झा, उपाध्यक्ष रुपेश सिन्हा, प्रदेश महासचिव नवीन झा, सचिव राजेश सिन्हा, संगठन सचिव विनीत सिन्हा, संयुक्त सचिव विवेक कुमार, कोषाध्यक्ष संजय राजा, महिला प्रदेश अध्यक्षा पूजा मिश्रा, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य धीरज कुमार झा, सहित सभी पत्रकारों ने पत्रकार पर हुए हमले की कठोर शब्दों में निंदा की है।

रिपोर्ट – विवेक कुमार यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0