डॉ स्वामीनंदन प्रसाद को बिहार डाक परिमंडल ने किया सम्मानित

डॉ स्वामीनंदन प्रसाद को बिहार डाक परिमंडल ने किया सम्मानित

पटना से राजकुमार की रिपोर्ट

विदित हो कि प्रतिभा के धनी डॉ स्वामीनंदन प्रसाद आज भी एक महान चिकित्सक , शिक्षाविद और प्रशासक के रूप में जाने जाते हैं । उनका जन्म 01.09.1920 को हुआ और मृत्यु 19.04.1983 हुई | उन्होंने चिकित्सा के क्षेत्र में अपने योगदान से एक अमिट छाप छोड़ी । अपनी एम.बी.बी.एस , एम.डी. की पढ़ाई पूरी करने के बाद , डॉ प्रसाद ने पटना विश्वविद्यालय में 1976 ई . में पटना मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल , पटना में मेडिसिन के हेड ऑफ़ डिपार्टमेंट , मेडिसिन के डीन और इंदिरा गाँधी इंस्टिट्यूट ऑफ़ कार्डियोलॉजी के निदेशक भी रहे | किसी एक व्यक्ति के लिए तीन महत्वपूर्ण पदों को धारण करना एक दुर्लभ उपलब्धि थी । उन्हें इंटरनेशनल कॉलेज ऑफ़ एन्जियोलोजी के फ़ेलोशिप से सम्मानित किया गया था । वह मेडिसिन के एमेरिटस प्रोफेसर बन गए और उन्होंने विभिन्न लेख भी लिखे जो भारतीय और विदेशी दोनों पत्रिकाओं में प्रकाशित हुए । उनके असाधारण चिकित्सा अभ्यास और विभिन्न पत्रिकाओं के व्यापक पठन ने उन्हें उन चुनौतियों के लिए परोपकारी समाधान पेश करने में सक्षम बनाया जो उनके सामने थीं । मेडिसिन विभाग में उनके योगदान के फलस्वरूप पटना मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल , पटना के टाटा वार्ड में उनके नाम पर ऑडिटोरियम का नामकरण किया गया ।

मेडिकल कॉलेज में अपने व्यस्त अभ्यास और शिक्षाओं के बावजूद , उन्होंने गरीब रोगियों के चिकित्सा के लिए प्रतिदिन एक घंटा समर्पित किया । उनका मानना था कि सर्वशक्तिमान ने खुद को जीवन बनाने की शक्ति के लिए आरक्षित किया है , लेकिन उन्होंने हम में से कुछ लोगों को इन जीवनों के संरक्षित करने की जिम्मेदारी दी है । उन्होंने अपने सम्पूर्ण जीवन चिकित्सा के क्षेत्र में समर्पित कर दिया | इस वर्ष 2020 डॉ स्वामीनंदन प्रसाद का जन्म शताब्दी वर्ष मनाया जा रहा है ।

डॉ स्वामीनंदन प्रसाद के जन्म शताब्दी वर्ष को यादगार और सफल बनाने , उनको सम्मानित करने तथा श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए बिहार डाक परिमंडल दिनांक 30 दिसम्बर 2020 को इनके ऊपर विशेष आवरण ( स्पेशल कवर ) जारी किया । स्पेशल कवर रिलीज़ सेरेमनी बिहार डाक परिमंडल ( सभा कक्ष ) , मेघदूत भवन , जी.पी.ओ कैंपस , पटना में अपराह्न 3 बजे संपन्न किया गया ।

इस समारोह में डॉ सी.पी.ठाकुर , पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं पूर्व राज्य सभा सदस्य मुख्य अतिथि के रूप में विराजमान रहें । श्री अनिल कुमार , डाक महाध्यक्ष , पूर्वी प्रक्षेत्र , बिहार , श्री राज नंदनप्रसाद ( डॉ स्वामीनंदन प्रसाद के पुत्र ) एवं अन्य गणमान्य तानिनों की गाणिति ने समारोह को सफल और संपन्न करने में अहम भूमिका निभाई ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0