अधिकारों को पाने के लिए मानसिक गुलामी से बाहर आना होगा तभी बाबा साहब के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी बबीत

अधिकारों को पाने के लिए मानसिक गुलामी से बाहर आना होगा तभी बाबा साहब के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी बबीत

संवाददाता : रविशंकर मिश्रा

मोतिहारी । महात्मा ज्योतिबा फूले शिक्षण संस्थान अवधेश पुरी कॉलोनी नियर कुमारी देवी चौक मोतिहारी में भारत के शिल्पकार, भारत के भाग्य विधाता, बोधिसत्व, भारत रत्न, संविधान निर्माता परम पूज्य बाबा साहब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की 130 वी जयंती मनाई गई जिसकी अध्यक्षता जिला अध्यक्ष किरण राम ने तथा संचालन जिला कार्यकारी अध्यक्ष व जिला के प्रभारी मनोज कुमार अकेला ने किया इस अवसर पर कार्यक्रम का उद्घाटन करता एवं मुख्य अतिथि भारतीय दलित साहित्य अकादमी के प्रांतीय अध्यक्ष जगाराम शास्त्री ने कहा कि बड़ी मेहनत करके बाबा साहब ने संविधान बनाया तथा उस संविधान में शुद्र ,कमजोर वर्गों के लिए विशेष अधिकार एवं राजनीतिक अधिकार दिया।

वह अधिकार आज हम से छीनने का प्रयास किया जा रहा है इस तरह हमारा संविधान आज खतरे में है। इसे हर हाल में बचाना है। जब तक शरीर में खून का एक कतरा रहेगा तब तक भारतीय दलित साहित्य अकादमी संघर्ष करेगा।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला प्रभारी मनोज कुमार अकेला ने कहा कि बाबा साहब का मूल मंत्र शिक्षा है और बाबा साहब ने कहा कि शिक्षा ही वह चाबी है जिसे सत्ता को हासिल किया जा सकता है हम लोगों को शिक्षा के साथ-साथ आर्थिक रूप से मजबूत बनना होगा तभी हम अपने अधिकारों को पूरा कर सकेंगे।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भारतीय दलित साहित्य अकादमी महिला सेल की अध्यक्षता अलीशा सिन्हा ने कहा कि हमें अपने साथ साथ समाज में भी शिक्षा का दीप जलाना होगा तभी हम बाबासाहेब के सपनों को पूरा कर सकते हैं महिला सेवा शक्ति करण मंच के संस्थापक अध्यक्ष बबीता श्रीवास्तव ने कहा कि बाबा साहब ने कहा कि अपने अधिकारों को पाने के लिए मानसिक गुलामी से बाहर आना होगा तभी हम बाबा साहब के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

रविदास युवा मंच के जिला अध्यक्ष प्रेमचंद कुमार प्रभाकर अधिवक्ता ने कहा कि बाबा साहब ने बहुत ही संघर्षों के बाद विश्व का सबसे बड़ा संविधान लिखा जिसमें सभी समाज को समान अधिकार दिए।

इस कार्यक्रम को डॉक्टर एच बी रंजन, चांद विद्रोही अधिवक्ता ,अनुसूचित जाति जनजाति कर्मचारी संघ के पदाधिकारी अरुण अरुण पासवान, अखिल भारतीय चौहरमल मोर्चा महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष हीरामोनी पासवान कुमार पासवान भारतीय दलित साहित्य अकादमी के प्रांतीय संगठन सचिव बैजनाथ पासवान, गणेश केसरी अरविंद कुमार,अनुराग कुमार, शिवनाथ कुमार, सत्येंद्र शाह ,प्रभा कुमारी ,निर्मला कुमारी, विभा सिंह, कृष्ण कुमार वर्मा आदि ने बाबा साहेब की जीवनी पर प्रकाश डाला ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Shares