मुज़फ़्फ़रपुर मेडिकल अस्पताल में ऑक्सीजन फ्लो बंद होने से 9 की मौत ये मिथ्या और भ्रामक बातें हैं:-जिला प्रशासन

9 deaths due to shutdown of oxygen flow in Muzaffarpur Medical Hospital are false and misleading: – District administration

✍️अरविंद अकेला मुज़फ़्फ़रपुर

Muzaffarpur : मुज़फ़्फ़रपुर एसकेएमसीएच डेडिकेटेड कोविडअस्पताल है। यहां प्रायः गंभीर मरीज ही आ रहे हैं जिनका समुचित इलाज अस्पताल प्रशासन द्वारा किया जा रहा है।गंभीर कोविड मरीज की डेथ भी हुई है और मरीज स्वस्थ होकर घर भी जा रहे है।

एसकेएमसीएच मुजफ्फरपुर को पिछले 24 घंटे में 240 बड़ा सिलेंडर ऑक्सीजन एवं 140 छोटा सिलेंडर उपलब्ध कराया गया है। ऑक्सीजन की उपलब्धता का कोई अभाव नही है। वर्तमान में एडमिट सभी 129 मरीजों को ऑक्सीजन निर्वाध रूप से उपलब्ध कराया जा रहा है। अस्पताल में आवश्यक उपकरणों एवं आवश्यक दवाइयों का कोई अभाव नहीं है। इलाज के बाद रोगी ठीक हो कर घर भी जा रहे हैं।

इस संबंध में एसकेएमसीएच अधीक्षक से बात की गई। उन्होंने बताया कि ऑक्सीजन फ्लो में बाधा के कारण मौत की खबर मिथ्या, आधारहीन और भ्रामक है। उन्होंने बताया कि एडमिट सभी मरीजों को आवश्यकतानुसार ऑक्सीजन दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि कोविड मरीजों के लिए पांच वेंटिलेटर पूर्ण रूप से फंक्शनल है।

अतः यह कहना कि ऑक्सीजन फ्लो में बाधा से मरीजों की मौत हुई है गलत है। अस्पताल प्रशासन द्वारा इसका खंडन किया गया है। यह मिथ्या और आधारहीन बातें हैं। ऐसी बात कहना अफवाह को बल प्रदान करना है ऐसी स्थिति में महामारी अधिनियम के तहत कार्रवाई भी की जा सकती है।

वहीं जिला प्रशासन द्वारा आक्सीजन उत्पादन की क्षमता में अपेक्षित वृद्धि के मद्देनजर प्रभावी कदम उठाए जा रहे हैं। 2 से 3 दिनों में ऑक्सीजन उत्पादन प्रति दिन 1900 से 2000 सिलेंडर प्रतिदिन होने की संभावना है। बढ़ते संक्रमण को देखते हुए कोविड डेडीकेटेड अस्पताल एसकेएमसीएच में beds की संख्या 200 तक बढ़ाई जा सकती है। वही कोविड डेडीकेटेड सेंटर ग्लोकल के द्वारा मरीजों का इलाज किया जा रहा है।अन्य कोविड डिडिकेटेड सेंटर भी बनाए जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0