3262 किसानों से खरीदा गया 24398 मीट्रिक टन धान।

29 से 31 दिसंबर तक गांवों में लगेगा विशेष कैंप, इच्छुक किसानों को पैक्स में धान बेचने हेतु किया जाएगा प्रेरित।

किसान सलाहकार घर-घर भ्रमण कर इच्छुक किसानों विशेषकर लघु एवं सीमांत किसानों से संपर्क कर धान अधिप्राप्ति संबंधी देंगे जानकारी।

1से 10 जनवरी तक पैक्स पर किसानों से धान क्रय करने का विशेष अभियान।

डीएम ने धान अधिप्राप्ति के विशेष अभियान से लाभ उठाने की किसान भाइयों से कीअपील

डीएम ने सभी एसडीओ, बीडीओ, सीओ को प्रभावी मॉनिटरिंग करने तथा पूरी जवाबदेही, ईमानदारी एवं पारदर्शिता से धान अधिप्राप्ति का कार्य ससमय सुनिश्चित करने का दिया निर्देश।


धान अधिप्राप्ति कार्य के सफल एवं सुचारु संपादन सुनिश्चित कराने तथा इच्छुक किसानों को जागरुक एवं प्रेरित कर धान अधिप्राप्ति में गति लाने हेतु जिलाधिकारी श्री कुमार रवि ने हिंदी भवन से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी अनुमंडल पदाधिकारी सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी सहित सहकारिता विभाग के सभी अधिकारियों के साथ समीक्षात्मक बैठक की तथा आवश्यक निर्देश दिया।

बैठक में पाया गया कि 3262 किसानों से 24398 मेट्रिक टन धान की अधिप्राप्ति हो चुकी है तथा इस दिशा में पालीगंज, धनरूआ, बिहटा, विक्रम, नौबतपुर ने सराहनीय कार्य किया है।

खरीफ विपणन मौसम 2020- 21 के तहत पटना जिला में धान अधिप्राप्ति का 180000 मेट्रिक टन का लक्ष्य है। इस लक्ष्य के अनुरूप सभी प्रखंडों में धान अधिप्राप्ति हेतु अभियान जारी है। जिलाधिकारी ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं अंचलाधिकारी को धान अधिप्राप्ति के प्रतिदिन के कार्य का प्रभावी मॉनिटरिंग करने का निर्देश दिया है।

समीक्षा के क्रम में पाया गया कि सीएमआर जमा करने के मामले में पालीगंज नौबतपुर मसौढ़ी मनेर धनरूआ विक्रम का कार्य अच्छा रहा। जबकि बख्तियारपुर बिहटा दानापुर दनियावां घोसवारी खुसरूपुर पंडारक फुलवारी शरीफ संपतचक पुनपुन का सीएमआर जमा करने में असंतोषजनक प्रदर्शन रहा। तदनुसार उन्हें सीएमआर जमा करने के मामले में तेजी लाने का निर्देश दिया गया।सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं अंचलाधिकारी को इस कार्य की मॉनिटरिंग करने का भी निर्देश दिया गया है।

समीक्षा के क्रम में पाया गया कि 76 मील का निबंधन हो चुका है। जिलाधिकारी ने दानापुर एवं पटना सदर को मील का सत्यापन करने तथा टैगिंग करने का निर्देश दिया।

29 दिसंबर 30 दिसंबर एवं 31 दिसंबर को गांव में विशेष कैंप का आयोजन किया जाएगा इसके माध्यम से किसान सलाहकार एवं कृषि समन्वयक घर-घर भ्रमण कर इच्छुक किसानों से संपर्क स्थापित करेंगे। उन्हें किसानों से संपर्क स्थापित कर धान की बिक्री करने वाले किसानों की संख्या, उनके द्वारा बेचे जाने वाले धान की मात्रा, बेचने का स्थान आदि की जानकारी प्राप्त करने तथा विहित प्रपत्र में रिपोर्ट भेजने का निर्देश दिया गया है। इस दौरान किसानों को विशेषकर लघु एवं सीमांत किसानों को धान अधिप्राप्ति हेतु जागरूक एवं प्रेरित करने का निर्देश दिया गया है।

शिविर से प्राप्त फीडबैक के आधार पर 1 जनवरी से 10 जनवरी तक धान अधिप्राप्ति हेतु विशेष अभियान चलाया जाएगा जिसमें निर्धारित तिथि को किसान संबंधित पैक्स/ व्यापार मंडल के क्रय केंद्र पर न्यूनतम समर्थन मूल्य पर धान बेचकर रसीद प्राप्त करेंगे। उनके खाते में 48 घंटे के भीतर धाम का मूल्य हस्तांतरित कर दिया जाएगा। इस अवधि में और इसके बाद भी निर्धारित तिथि तक सामान्य तरीके से धान की अधिप्राप्ति जारी रहेगी। जिलाधिकारी ने सभी किसान भाइयों से इस विशेष अभियान का लाभ उठाने की अपील की है।

बैठक में अपर समाहर्ता आपूर्ति श्री निर्मल कुमार विशिष्ट अनुभा जन पदाधिकारी श्री रंजीत कुमार डीआरडीए निदेशक श्री अनिल कुमार जिला सहकारिता पदाधिकारी सहित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से सभी अनुमंडल पदाधिकारी सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी सभी प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी सहित कई अन्य अधिकारी जुड़े हुए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0