विपरीत परिस्थितियों में भी नहीं मानी हार, किया अपने सपनों को पूरा

विपरीत परिस्थितियों में भी नहीं मानी हार, किया अपने सपनों को पूरा

Mokama : कहते हैं जिनके हौसले बुलंद होते हैं तरक्की उनके पांव चुमती हैं। परिस्थिति चाहे कितनी भी विपरीत हो लेकिन निरंतर प्रयास जारी रखना चाहिए तभी सफलता मुमकिन हो पाती है। छात्रों को निरंतर आगे बढ़ते रहना चाहिए अपने लक्ष्य की ओर केंद्रित रहना चाहिए तभी सफलता मिलती है।

बता दें कि बिहार दरोगा परीक्षा की फाइनल रिजल्ट घोषित हो चुका है जिसमें कई लोगों का दरोगा में चयन हुआ है। इस परीक्षा में मोकामा घाट के अंकुश कुमार ने अपना परचम लहरा कर गांव का नाम रोशन किया है। वही अंकुश के परिवार और गांव में खुशी का माहौल है।रिश्तेरदार और गांव वालों की बधाई देते हुए उज्ज्वल भविष्य का आशीर्वाद दिया। अंकुश के पिता दिलीप कुमार टीवी बनाने का काम करते हैं और उनकी मां वार्ड नंबर 27 मोकामा घाट की पूर्व वार्ड पार्षद रह चुकी हैं और हाउसवाइफ हैं। घर के हालात ठीक ना होने के बावजूद भी अंकुश ने हार नहीं मानी और अपनी मेहनत से यह सफलता हासिल की है।

अंकुश ने अपनी सफलता का श्रेय अपने परिवार को दिया। उन्होंने बताया कि परिवार का साथ मिलता है, जिसके कारण यह सफलता मुमकिन हो पाई है।अंकुश की सफलता जिले भर के लिए प्रेरणा स्रोत बन चुकी है। उनका कहना है कि किसी भी विपरीत परिस्थिति में रुकना नहीं है, परिस्थिति विपरीत आती रहेगी लेकिन निरंतर प्रयास जारी रखना चाहिए तभी सफलता मुमकिन हो पाती है। उन्होंने छात्रों को संदेश दिया कि निरंतर आगे बढ़ते रहिए, पढ़ाई को बीच में बिल्कुल ना छोड़े एक लक्ष्य बनाएं और उस लक्ष्य के लिए समय सारणी बनाइए और जब तक लक्ष्य हासिल ना हो जाए तब तक कोशिश जारी रखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0