कोवैक्सिन की बूस्टर डोज को लेकर Bharat Biotech का बड़ा बयान,पढ़े पूरी खबर…

SBL DESK : भारत बायोटेक (Bharat Biotech) ने बताया कि परीक्षणों से संकेत मिले हैं कि उसकी वैक्सीन कोवैक्सिन (Covaxin) COVID-19 के खिलाफ बूस्टर खुराक के लिए सुरक्षित है। कंपनी ने कहा, ‘विश्लेषण से पता चला है कि कोवैक्सिन (बीबीवी152) की दोनों खुराकों के साथ टीकाकरण होने के छह महीने बाद सेल-मध्यस्थता प्रतिरक्षा और होमोलोगस (डी614जी) तथा हेट्रोलोगस स्ट्रेन्स (अल्फा, बीटा, डेल्टा, और डेल्टा प्लस), दोनों के लिए एंटीबॉडी को बेअसर करना बेसलाइन से ऊपर बना रहा है। हालांकि, प्रतिक्रियाओं की परिमाण में गिरावट आई थी।’

इसके अलावा कंपनी की ओर से कहा गया कि बूस्टर BBV152 टीकाकरण सुरक्षित है और संक्रमण को रोकने के लिए लगातार प्रतिरक्षा सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक हो सकता है। भारत बायोटेक के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक कृष्णा एला ने कहा, ‘ये परीक्षण परिणाम कोवैक्सिन को बूस्टर खुराक के रूप में प्रदान करने के हमारे लक्ष्य की दिशा में एक मजबूत आधार प्रदान करते हैं। COVID-19 के खिलाफ एक वैश्विक टीका विकसित करने का हमारा लक्ष्य वयस्कों, बच्चों, दो खुराक प्राथमिक और बूस्टर खुराक की कोवैक्सिन के साथ प्राप्त किया गया है।’

कृष्णा एला ने कहा, ‘यह वैक्सीन को एक सार्वभौमिक वैक्सीन के रूप में उपयोग करने में सक्षम बनाता है।’ कंपनी की ओर से बयान में कहा गया, “आंकड़ों के आधार पर, भारत बायोटेक का मानना ​​​​है कि सुरक्षा के उच्चतम स्तर को बनाए रखने के लिए तीसरी खुराक फायदेमंद हो सकती है।” बता दें कि देश में भारत बायोटेक की कोवैक्सिन से ही 15 से 18 साल के किशोरों का टीकाकरण किया जा रहा है।

भारत में एक बार फिर से कोरोना वायरस संक्रमण के केस बहुत तेजे से बढ़ने लगे हैं। ऐसे में लोगों को ज्यादा सुरक्षा की जरूरत है और अगर बूस्टर डोज को सरकार की ओर से अनुमति मिलती है तो यह कोरोना के खिलाफ लड़ाई में मजबूत स्तंभ की तरह साबित हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0