अररिया के पत्रकार बलराम विश्वास को गोली मारने की घटना पर चुप नहीं बैठेगी एनजेए : राकेश गुप्ता

  • बिहार में मीडिया कर्मियों पर लगातार हो रहे हमले लोकतंत्र के लिए खतरा
  • मधुबनी के पत्रकार अविनाश झा का अपरहण उपरांत जिंदा जलाकर हत्या मामले में प्रेम प्रसंग दिखाकर पुलिस कर रही है दिग्भ्रमित, हो सीबीआई जांच : रंजीत विद्यार्थी

-जल्द ही नेशनलिस्ट एसोसिएशन पत्रकार सुरक्षा कानून लागू करने सहित अन्य मुद्दों को लेकर हरेक जिले में करेगी धरना प्रदर्शन

पटना : अररिया के पत्रकार बलराम विश्वास पर अपराधियों द्वारा किए गए गोलीबारी के घटना से बिहार के पत्रकारों में भारी आक्रोश देखने को मिल रहा है। इस लोमहर्षक घटना की निंदा नेशनल जर्नलिस्ट एसोसिएशन से जुड़े सभी पदाधिकारियों ने एक स्वर से की है। घटना के विरोध में एसोसिएशन चुप बैठने वाली नहीं है। इस मुद्दे को लेकर चरणबद्ध आंदोलन की रूपरेखा तैयार की जा रही है ।एसोसिएशन से जुड़े पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री एवं डीजेपी से अविलंब इस मामले में शामिल लोगों की गिरफ्तारी की मांग की है। साथ ही ऐसा नहीं होने की स्थिति में चरणबद्ध आंदोलन चलाने का अल्टीमेटम भी दिया है। एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष राकेश कुमार गुप्ता ने घटना की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि हाल के दिनों में जिस प्रकार से अपराधियों के निशाने मीडिया कर्मी बन रहे हैं। यह चिंता का विषय है। शासन प्रशासन को इसे गंभीरता से लेना चाहिए। पत्रकार बलराम विश्वास पर गोलीबारी लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर हमला है। इस मुद्दे को लेकर मुख्यमंत्री एवं डीजीपी को मेल किया गया है। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने इस मुद्दे को लेकर प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया को पूरी घटना की जानकारी दी है। घटना की निंदा करते हुए एसोसिएशन के राष्ट्रीय महासचिव संजय कुमार सुमन ने अररिया घटना की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि अररिया की घटना ने मीडिया कर्मियों को झकझोर कर रख दिया है। बिहार में बेलगाम अपराधी मीडिया कर्मी को निशाना बना रहे और शासन प्रशासन मूकदर्शक बनी हुई है। सरकार जल्द कोई एक्शन नहीं लेती है तो एसोसिएशन चरणबद्ध आंदोलन करेगी। एसोसिएशन के राष्ट्रीय प्रवक्ता रंजीत विद्यार्थी ने अररिया के पत्रकार बलराम विश्वास पर जानलेवा हमला को लोकतंत्र के लिए खतरा बताते हुए कांड में शामिल सभी की अविलंब गिरफ्तारी की मांग की है। श्री विद्यार्थी ने मधुबनी के पत्रकार अविनाश झा का अपरहण उपरांत जिंदा जलाकर हत्या की घटना की सीबीआई जांच की मांग की है। राष्ट्रीय प्रवक्ता ने आगे मधुबनी के पत्रकार अविनाश झा मामले में पुलिस लव एंगल दिखाकर लोगों को दिग्भ्रमित करने की कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा कि एसोसिएशन पत्रकार सुरक्षा कानून लागू करने सहित अन्य मुद्दों को लेकर बिहार के प्रत्येक जिले में चरणबद्ध आंदोलन के तहत धरना प्रदर्शन करेगी। बताते चलें कि शनिवार को अररिया के पत्रकार बलराम विश्वास पर अपराधी सुमन वर्णवाल ने गोलीबारी की थी जिसमें बलराम विश्वास की सीने में गोली लगी थी। उनकी स्थिति अभी चिंताजनक बनी हुई है । घटनास्थल पर मौजूद ग्रामीणों ने अपराधी सुमन बरवाल को पकड़ कर पुलिस के हवाले किया था। जिसका इलाज स्थानीय सरकारी अस्पताल में चल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0